करेंट अफेयर्स – 18 मई 2022

  • utkarsh
  • May 18, 2022
  • 0
  • Blog, Blog Hindi, Current Affairs, News Hindi,
करेंट अफेयर्स – 18 मई 2022

दैनिक समसामयिकी (Current Affairs) के मुद्दों की महत्त्वपूर्ण जानकारी आज के इस लेख द्वारा उपलब्ध कराई गई है, जो सभी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में उपयोगी है –

भारतीय उद्योग परिसंघ के नए अध्यक्ष की नियुक्ति

हाल ही में संजीव बजाज ने वर्ष 2022-23 के लिए भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) के अध्यक्ष पद का भार ग्रहण किया है। वे बजाज फिनज़र्व लिमिटेड के चैयरमेन है। बजाज से पहले CII के अध्यक्ष पद पर टाटा स्टील के सीईओ टी.वी. नरेंद्रन कार्यरत थे। CII ने अपनी एक बैठक में वर्ष 2022-23 के नए पदाधिकारियों का चयन किया।

हीरो मोटोकॉर्प लिमिटेड के अध्यक्ष और सीईओ पवन मुंजाल ने CII के नामित अध्यक्ष और TVS सप्लाई चेन सॉल्यूशंस के कार्यकारी उपाध्यक्ष आर. दिनेश ने CII के उपाध्यक्ष के रूप में पदभार ग्रहण किया। 

संजीव बजाज के बारे में :

बजाज ने अपनी पढाई अमेरिका में हार्वर्ड बिजनेस स्कूल से की है। वे कईं सालों से राज्य, क्षेत्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर CII के साथ जुड़े हुए हैं। वे वर्ष 2021-22 के लिए अध्यक्ष पद के लिए नामित और 2019-20 के दौरान पश्चिमी क्षेत्र के अध्यक्ष थे। उन्होंने AIMA के मैनेजिंग इंडिया अवॉर्ड के एंटरप्रेन्योर ऑफ द ईयर (2019), ईटी के बिजनेस लीडर ऑफ द ईयर (2018), फाइनेंशियल एक्सप्रेस के बेस्ट बैंकर ऑफ द ईयर (2017-18), अर्न्स्ट एंड यंग के एंटरप्रेन्योर ऑफ द ईयर और वर्ष 2017 में हुए 5वें एशिया बिजनेस रिस्पॉन्सिबिलिटी समिट में ट्रांसफ़ॉर्मेशनल लीडर पुरस्कार सहित कई पुरस्कार प्राप्त किए हैं। इसके अलावा उन्हें वर्ष 2015 और 2016 के लिए भारत में बिजनेस वर्ल्ड के सबसे मूल्यवान सीईओ का सम्मान भी प्राप्त है।


हरियाणा सरकार की ‘ई-अधिगम’ योजना

हाल ही में हरियाणा सरकार ने राज्य में छात्रों को निःशुल्क टेबलेट डिवाइस वितरित करने के उद्देश्य से ‘ई-अधिगम’ योजना शुरू की है। इसके तहत 3 लाख छात्रों को ऑनलाइन शिक्षा में सहायता के लिए टेबलेट डिवाइस प्रदान किए जाएंगे। हालाँकि, सरकार ने पाँच लाख छात्रों को गैजेट उपलब्ध कराने की योजना बनाई है। 

इस एडवांस डिजिटल हरियाणा इनिशिएटिव ऑफ़ गवर्नमेंट विद एडॉप्टिव मॉड्यूल (Adigham) योजना का शुभारंभ हरियाणा के रोहतक में महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा किया गया। यह योजना प्रदेश के गरीब छात्रों को डिजिटल शिक्षा तक पहुँच प्राप्त करने के लिए टेबलेट डिवाइस प्रदान करेगी, जिससे वे सशक्त एवं आत्मनिर्भर होने के साथ वैश्विक विद्यार्थी बनेंगे। 

इस योजना के पात्र सरकारी स्कूल के वे छात्र होंगे, जिन्होंने कक्षा 10वीं की बोर्ड परीक्षा पास करने के बाद 11वीं में दाखिला लिया है। ये डिवाइस पर्सनलाइज्ड और एडॉप्टिव लर्निंग सॉफ्टवेयर के साथ प्री-लोडेड कंटेंट और 2GB फ्री डेटा के साथ आते हैं।


बुद्ध पूर्णिमा या वेसाक दिवस -2022

बुद्ध पूर्णिमा प्रतिवर्ष वैशाख मास की पूर्णिमा को मनाई जाती है तदनुसार इस वर्ष यह 16 मई को मनाई गई। इस दिन भगवान बुद्ध का जन्म हुआ था। पारंपरिक रूप से दक्षिण एशिया और दक्षिण-पूर्व एशिया के साथ-साथ तिब्बत और मंगोलिया में बौद्धों द्वारा मनाए जाने वाले इस दिवस को ‘वेसाक’ भी कहा जाता है। यह दिवस थेरवाद, तिब्बती बौद्ध धर्म और नवायना में गौतम बुद्ध के जन्म, ज्ञान और मृत्यु की याद दिलाता है।

यह दुनिया भर के लाखों बौद्धों के लिए सबसे पवित्र दिन है। इसी दिन बुद्ध अपने अस्सीवें वर्ष में गुजर गए थे। गौतम बुद्ध का जन्म दुनिया भर के बौद्धों और हिंदुओं द्वारा बुद्ध पूर्णिमा के प्रमुख त्योहार के रूप में भारत, नेपाल, भूटान, बर्मा, थाईलैंड, तिब्बत, चीन, कोरिया, लाओस, वियतनाम, मंगोलिया, कंबोडिया, सिंगापुर, इंडोनेशिया और श्रीलंका जैसे देशों में मनाया जाता है। बुद्ध ने अपने आत्मज्ञान की शिक्षा से लाखों लोगों को प्रभावित किया था, जिसका असर वर्तमान में भी बरकरार है। दुनिया भर में लाखों लोग बुद्ध की शिक्षाओं का पालन करते हैं और वेसाक के दिन ज्ञान की प्राप्ति का स्मरण करते हैं।


अंतर्राष्ट्रीय प्रकाश दिवस-2022

अंतर्राष्ट्रीय प्रकाश दिवस हर साल 16 मई को मनाया जाता है। यह दिवस भौतिक विज्ञानी और इंजीनियर थियोडोर मैमन द्वारा वर्ष 1960 में लेजर के पहले सफल संचालन की वर्षगाँठ को चिह्नित करता है। यह दिवस वैज्ञानिक सहयोग को मजबूत करने तथा शांति और सतत विकास को बढ़ावा देने के लिए प्रेरित करता है। थियोडोर मैमन की खोज ‘लेजर’ एक आदर्श उदाहरण है कि कैसे एक वैज्ञानिक खोज संचार, स्वास्थ्य देखभाल और कई अन्य क्षेत्रों में समाज में सकारात्मक क्रांतिकारी बदलाव ला सकती है।

थियोडोर मैमन के बारे में :

थियोडोर हेरोल्ड मैमन का जन्म 11 जुलाई, 1927 को हुआ था। वे पेशे से एक अमेरिकी इंजीनियर और भौतिक वैज्ञानिक थे। व्यापक रूप से लेजर के आविष्कार का श्रेय मैमन को ही जाता है। उन्होंने कईं प्रकार की लेज़रों का विकास किया। मैमन और उनके नियोक्ता, ह्यूजेस एयरक्राफ्ट कंपनी ने दुनिया के लिए लेजर की घोषणा दिनांक 7 जुलाई, 1960 को मैनहट्टन में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में की थी। मैमन को उनके इस अविष्कार के लिए पेटेंट भी प्रदान किया गया था। 


इसरो ने किया गगनयान कार्यक्रम के लिए HS200 का सफलतापूर्वक परीक्षण 

हाल ही में इसरो ने सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र (SDSC), श्रीहरिकोटा से गगनयान कार्यक्रम के लिए मानव-रेटेड ठोस रॉकेट बूस्टर (HS200) का स्थैतिक परीक्षण सफलतापूर्वक पूरा किया। यह मानव-रेटेड ठोस रॉकेट बूस्टर (HS200) बूस्टर GSLV Mk III उपग्रह प्रक्षेपण यान के सिद्ध S200 रॉकेट बूस्टर का मानव-रेटेड संस्करण है, जिसे LVM3 के नाम से भी जाना जाता है।

महत्त्वपूर्ण बिंदु :

  • HS200 बूस्टर का डिजाइन और निर्माण कार्य विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र (VSSC), तिरुवनंतपुरम में और प्रणोदक कास्टिंग कार्य SDSC, श्रीहरिकोटा में पूरा किया गया। 
  • 203 टन ठोस प्रणोदक से लदे HS200 बूस्टर का परीक्षण 135 सेकंड की अवधि के लिए किया गया था।
  • LVM3 प्रक्षेपण यान के पहले चरण S200 मोटर का उद्देश्य 4000 किलोग्राम वर्ग के उपग्रहों को जियोसिंक्रोनस ट्रांसफर ऑर्बिट में लॉन्च करना है। 
  • चंद्रयान मिशन की सफलता को देख कर LVM3 को गगनयान मिशन के लॉन्चर के रूप में चुना गया है।
  • यह दुनिया का सबसे बड़ा ऑपरेशनल बूस्टर है, जो 20 मीटर लंबा और 3.2 मीटर व्यास वाला बूस्टर ठोस प्रणोदक के साथ है।
  • इस परीक्षण में लगभग 700 मापदंडों की निगरानी की गई और सभी प्रणालियों का प्रदर्शन सामान्य रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.