पटवारी परीक्षा के लिए मुहावरे याद करने के टिप्स और ट्रिक्स

  • utkarsh
  • Dec 16, 2020
  • 0
  • Blog Hindi, Patwari Exam,
पटवारी परीक्षा के लिए मुहावरे याद करने के टिप्स और ट्रिक्स

पटवारी राजस्थान में बहुत लोकप्रिय परीक्षा है। राजस्थान अधीनस्थ और मंत्रालयिक सेवा चयन बोर्ड इस परीक्षा का आयोजन गाँव के खातों और सरकारी राजस्व प्रशासन के लिए जिम्मेदार उम्मीदवारों की भर्ती के लिए करता है। मुहावरे पटवारी पाठ्यक्रम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है क्योंकि सामान्य अंग्रेजी इसमें एक विषय है। इस परीक्षा में भाग लेने के इच्छुक उम्मीदवारों को मुहावरों का गहन ज्ञान होना चाहिए। केवल निरंतर अभ्यास के द्वारा ही इस परीक्षा के सामान्य अंग्रेजी भाग को उत्तीर्ण किया जा सकता है उसमें महारत हासिल की जा सकती है। इस लेख में, हम राजस्थान पटवारी परीक्षा के लिए मुहावरों को याद करने की कुछ युक्तियों पर चर्चा करेंगे।

1. मुहावरे के संदर्भ को समझें

सुनिश्चित करें कि आप मुहावरों के सिर्फ अर्थ ही नहीं समझे बल्कि उनके संदर्भ को भी जाने। किसी भी मुहावरे को पढ़ते समय, सुनिश्चित करें कि आप जानते हैं कि इस मुहावरे को किस वाक्य में लागू किया जा सकता है और यदि यह एक वाक्य में है, तो मुहावरे का अर्थ क्या है। यह आपको लंबे समय तक मुहावरे को याद रखने में मदद करेगा।

2. संशोधन कुंजी है

उन सभी मुहावरों की सूची या रजिस्टर बनाएं जो आपने याद किये हैं और उसमे उनके अर्थों के साथ एक उदाहरण भी लिखना न भूले। इस तरह, आप कभी भी अपने मुहावरों को रिवाइज़ कर सकते हैं। निरंतर रिविज़नआपको मुहावरों को याद रखने में मदद करेगा और यह सुनिश्चित करेगा कि आप उनमें से किसी को भी न भूलें। आप अपने स्मार्टफोन में मुहावरों को नोट कर सकते हैं ताकि आप कहीं भी रिविज़न कर सके। 

3. रटने से बचे 

कभी भी एक दिन में सैकड़ों मुहावरों को याद करने की कोशिश न करें। यह एक धीमी प्रक्रिया है और इसमें समय लगता है। एक बार में बहुत सारे मुहावरों को सीखना आपको भ्रमित कर देगा, और आप कुछ भी नहीं सीखेंगे। सबसे अच्छा तरीका विषयों के अनुसार मुहावरों को समूहित करना और फिर उन्हें सीखना है। इस तरह, आपके पास सीखने के दौरान एक पैटर्न होगा, जिससे याद रखना आसान हो जाएगा।

4. मुहावरों को याद करते हुए मन में चित्रित करें 

यह न केवल मुहावरों को याद करने का एक शानदार तरीका है, बल्कि इस प्रकार आप किसी भी चीज़ को बेहतरीन रूप में याद रख सकते हैं। जब आप एक मुहावरा सीख रहे हैं, तो मुहावरे में जो भी बात की जा रही है, उसकी मन में एक छवि बनाने की कोशिश करें। इस तरह, आप मुहावरे और उसके अर्थ को एक छवि से संबंधित कर सकते हैं जिसे आसानी से याद किया जा सकता है। आप उन्हें अपनी कल्पना के आधार पर कहानियों या वाक्यों से भी जोड़ सकते हैं। आप इस तरह से सीखे गए मुहावरों को कभी नहीं भूलेंगें।

5. मुहावरों की उत्पत्ति का पता लगाना

हर मुहावरे की अपनी उत्पत्ति के पीछे एक कहानी होती है। सबसे अच्छा होगा यदि आप मुहावरे के अर्थ को बेहतर ढंग से समझने के लिए कहानियों का पता लगाने की कोशिश करें। यह आपको अपनी कल्पना का निर्माण करने और विभिन्न संस्कृतियों और उनके इतिहास के बारे में अपने ज्ञान को बढ़ाने में भी मदद करेगा।

यहाँ हम उनके अर्थ के साथ पटवारी परीक्षा के लिए कुछ महत्वपूर्ण मुहावरों को सूचीबद्ध कर रहे हैं।

मुहावरेअर्थ
अक्ल पर पत्थर पड़नाबुद्धि भ्रष्ट हो जाना
अंक भरनास्नेह से लिपटा लेना
अंग टूटनाथकान से दर्द होना
अपने मुंह मिया मिट्ठू बननाअपनी तारीफ स्वयं करना
अपने पैरों पर खड़ा होनास्वावलम्बी होना
अक्ल का दुश्मनमुर्ख व्यक्ति
अपना उल्लू सीधा करनाअपना काम निकालना
अंगारों पर लेटनादुःख सहना
अंगूठा दिखानावक्त पर धोखा देना
अँचरा पसारनामाँगना या याचना करना
अंटी मारनाअपनी चाल चलना
अण्ड बण्ड कहनाभला बुरा कहना
अँधा धुंध लुटानाबिना बिचारे खूब खर्च करना
अँधा बननाआगे पीछे कुछ न देखना
अँधा बनानाधोखा देना
अँधा होनाविवेकहीन हो जाना
अंधे के लकड़ीएकमात्र सहारा
अंधेरखाताअन्याय
अंधेरनगरीजहाँ बस धांधली ही चलती हो
अकेला दमअकेला
अक्ल की दुमअपने को बहुत होशियार समझने वाला
अगले ज़माने का आदमीसीधा सादा आदमी
अढ़ाई दिन की हुक़ूमतकुछ दिन की शान शौकत
अन्न जल उठनासमय पूरा हो जाना
अन्न जल करानाजलपान कराना
अन्न लगनास्वस्थ होना
अपना किया पानाकिये का फल भोगना
अपना सा मुँह लेकर रह जानाशर्मिंदा होना
अपनी खिचड़ी अलग पकानाअलग रहना या स्वार्थी होना
अपने पैर पर कुल्हाड़ी मारनासंकट मोल लेना
अब तब करनाबहाना करना
अब तब होनामरने के करीब होना, परेशान करना
अंग अंग ढीला होनाअत्यधिक थक जाना
अंगारे उगलनाकड़वी बातें करना
अंगारों पर लेटनाईर्ष्या से व्याकुल होना
ऊँगली उठानाकिसी के चरित्र/ईमानदारी पर शक करना या प्रश्न करना
उंगली पकड़कर पहुंचा पकड़नासहारा लेकर हावी होना
अंगूठा छापअनपढ़ होना
अंगूर खट्टे होनाकिसी चीज के न मिलने पर उसमे कमी निकालना
अंजर पंजर ढीले होनाबहुत थक कर शरीर शिथिल पड़ जाना
अंडे सेनाघर में ही बैठे रहना
अंतड़ियों के बल खोलनादिनों बाद भरपेट खाना
अंतड़ियों में बल पड़नापेट दर्द होना
अंतिम घड़ी आनामृत्यु के निकट होना
अँधा बननाध्यान न देना
अंधे के हाथ बटेर लगनाअयोग्य के हाथ मूलयवान वानास्तु लगना
अंधे को दो आँखें मिलनामनोरथ सिद्ध हो जाना
अंधेर मचानाअत्याचार करना
अक्ल का अँधामूर्ख
अक्ल के पीछे लट्ठ लेकर भागनाहर समय मूर्खता का कार्य करना
अक्ल घास चरने जानासमय पर बुद्धि न चलना
अक्ल ठिकाने लगानामारना पीटना
अक्ल ठिकाने लगनाभूल समझ आ जाना
अगर मगर करनाटाल मटोल करना
अपना रास्ता नापनाचले जाना
अपना सिक्का ज़मानाप्रभुत्व जमाना
सर ओखली में देनाजानकार संकट मोल लेना
अपनी खाल में मस्त रहनाअपने में ही रमे रहना
अंगारों पर पैर रखनाखुद को खतरे में डालना
अक्ल का अजीर्ण होनाजरुरत से ज्यादा समझदार होना
अक्ल दंग होनाचकित होना
अक्ल का पुतलाबहुत अधिक बुद्धिमान
अंत पानाभेद जानना
अंतर के पट खोलनाविवेक से काम लेना
अक्ल के घोड़े दौड़ानाकल्पना करना
अपने दिनों को रोनाखुद की दुर्दशा पर शोक जताना
अला उद्दीन का चिराग होनाअद्भुद वस्तु
अल्लाह को प्यारा हो जानामर जाना
अपनी डफली खुद बजानामन की करना
अंग अंग मुस्कानाअति प्रसन्न होना
अगवा करनाअपहरण करना
अति करनामर्यादा का उल्लंघन करना
अपना अपना राग अलापनाकिसी की न सुनना और खुद की करना
अपनी राम कहानी सुनानाअपना हाल सुनाना
अरमान निकालनाइच्छा पूरी करना
अंधों में काना राजाअज्ञानियों में अल्पज्ञानी का सम्मान
अंकुश देनादबाव डालना
अंग में अंग चुरानाशर्माना
अंग अंग फूले न समानाअत्यधिक खुश होना
अंगार बननाअत्यधिक क्रोध करना
अंडे का शहजादाअनुभवहीन व्यक्ति
अठखेलियां सूझनामजाक मस्ती करना
अँधेरे मुँहप्रातःकाल या सुबह तड़के
अड़ियल टट्टूरुक रुक कर काम करना
अपना घर समझनाबिना संकोच व्यवहार करना
अड़चन डालनावाधा उत्पन्न करना
अरमान निकालनाइच्छा पूरी करना
अरण्य चन्द्रिकानिष्प्रयोजन पदार्थ
आँख भर आनाआँख में आंसू आ जाना
आँखों में बसनादिल में समा जाना
आँखें खुलनासमझ आ जाना
आँख का ताराबहुत प्यारा
आँखें दिखानाकिसी पर गुस्सा करना
आसमान से बातें करनाबहुत ऊँचा होना
आकाश छूनाबहुत तरक्की करना
आकाश पाताल एक करनाबहुत मेहनत करना
आकाश पाताल का अंतर होनाबहुत अधिक भिन्न होना
आंच आनाकष्ट होना
आते गुड़गुड़ानाबहुत भूख लगना
आंधी के आमबहुत सस्ता
आंसू पीनादुःख की घडी में शांत रहना
आकाश का फूल होनाअप्राप्य वस्तु
आकाश के तारे तोड़नाअसंभव कार्य करना
मुँह से आग उगलनाकड़वी बातें करना
आकाश से बातें करनाबहुत ऊँचा होना
आग बबूला होनाअत्यधिक क्रोध करना
आग पर लेटनाईर्ष्या से जलना
आग में घी डालनागुस्से को और भड़काना
प्यास लगने पर कुआं खोदनाऐन मौके पर कार्य करना
आग लगाकर तमाशा देखनाझगड़ा कराकर मजे लेना
आटे दाल का भाव पता चलनादुनियादारी का ज्ञान होना
आग से खेलनाखतरनाक काम करना
आग हो जानाबहुत तेजी से फैलना
आगे पीछे न सोचनासमय पर ही लाभ हानि का सोचना
आज कल करनाटालना
आटे के साथ घुन पिसनादोषी के साथ निर्दोष को दंड मिलना
आड़े हाथ लेनाबुरा भला कहना
आधा तीतर आधा बटेरबेमेल वस्तु
आसमान में उड़नाथोड़ा पैसा आने पर उड़ाना
आसमान पर चढ़नाबहुत अभिमान करना
आसमान पर थूकनामहान व्यक्ति को भला बुरा कहना
आसमान सर पर उठानाबहुत ऊधम मचाना
सर पे आसमान टूटनामुसीबत आ जाना
आसमान से गिरे खजूर में अटकेएक परेशानी से निकलकर दूसरी मुसीबत में फस जाना
आस्तीन चढ़ानातैयार करना
आह लेनाकिसी की बद्दुआ लेना
आंधी के आमबिना परिश्रम के मिली वस्तु
आखिरी साँसें गिननामृत्यु के निकट होना
आग देनाडाह संस्कार में आग लगाना
आफत का मारादुखी व्यक्ति
आफत मोल लेनाव्यर्थ का झगड़ा मोल लेना
आव देखा न तावबिना सोचे विचारे
आहुति देनाप्राण न्योछावर करना
आग का पुतलाक्रोधी व्यक्ति
आग पर आग डालनागुस्से या लड़ाई को और बढ़ाना
आग पर पानी डालनाकरना
आग और पानी का बैरसहज दुश्मनी
आग बोनाझगड़ा शुरू करना
आग में कूद पड़नाखतरा मोल लेना
आन की आन मेंतुरंत
अगिया बैतालक्रोधी
इंद्र की परीबहुत सुन्दर स्त्री
इज्जत उतारनाअपमानित करना
इज्जत मिट्टी में मिलानासम्मान नष्ट करना
इधर की उधर करनाचुगली करना
इधर उधर की हांकनागप मारना
इस कान से सुनकर उस कान से निकालनाध्यान न देना
इस हाथ देना उस हाथ लेनातुरंत फल मिलना
इंतकाल हो जानामृत्यु हो जाना
इशारे पर नाचनावश में हो जाना
ईंट से ईंट बजानाजमकर झगड़ा होना
ईंट का जबाब पत्थर से देनाजबरदस्त बदला लेना
ईद का चाँद होनाबहुत दिनों बाद दिखना
ईमान बेचनाबेईमानी करना
उड़ती चिड़िया को पहचाननामन या रहस्य की बात को जान लेना
उन्नीस बीस का अंतर होनाबहुत थोड़ा सा फर्क होना
उल्टी गंगा बहानालीक से हटकर काम करना
उड़ जानाखर्च हो जाना
उड़ती खबरअफवाह
उड़न-छू हो जानागायब हो जाना
उधेड़बुन में रहनाचिंतित रहना
उबाल पड़नाअचानक क्रोध करना
उल्टी माला फेरनाबुराई चाहना या अनिष्ट चाहना
उल्टी सीधी जड़नाझूठी शिकायत करना
उल्टी सीधी सुनानाबुरा भला कहना
उलटे छुरे से मूढनाठगना
उल्टे पाँव लौटनाजैसे जाना वैसे ही बापस आ जाना
उल्लू बनानाबेवकूफ बनाना
उगल देनाभेद प्रकट करना
उल्लू बोलनावीरान स्थान होना
उल्लू का पट्ठापूरा मूर्ख
ऊँट के गले बिल्ली बांधनाबेमेल जोड़ी बनाना
ऊँट के मुँह में जीराअधिक आवश्यकता पर थोड़ी वस्तु
ऊल जलूल बकनाभला बुरा कहना
ऊसर में बीज बोनाव्यर्थ कार्य करना
ऊँचा सुननाकम सुनाई देना
ऊपर की आमदनीनियमित स्त्रोत के अतिरिक्त आय
ऊपरी मन से कहनाबेमन से कह देना
सबको एक आँख से देखनासबके साथ एक जैसा व्यवहार करना
एक लाठी से सबको हांकनाउचित अनुचित के बिना व्यवहार
एक आँख न भानाबिलकुल अच्छा न लगना
एक और एक ग्यारहसंगठन ही शक्ति है
एक तीर से दो शिकारएक साधन से दो काम कर लेना
एक से इक्कीस होनाउन्नति करना
एक ही थाली के चट्टे बट्टेएक जैसे स्वभाव के
एक ही नाव में सवारएक जैसी परिस्थिति में पड़ना
एड़ियां रगड़नानहुत दिनों से बीमार होना
एक न चलनाकोई युक्ति काम न आना
ऐरा गैर नत्थू खैरामामूली आदमी
ऐसा वैसातुच्छ व साधारण
ऐसी की तैसी करनाबुरी हालत करना
ओखली में सर देनाखुद मुसीबत में पड़ना
ओर छोर न मिलनारहस्य पता न चलना
ओस के मोतीक्षणभंगुर वस्तु
औंधी खोपड़ीउल्टी बुद्धि का
औंधे मुँह गिरनाबुरी तरह धोखा खाना
कान देनाध्यान से सुनना
कान खोलनासावधान होना
कमर कसनातैयार होना
कलेजा मुँह को आनाअत्यधिक भयभीत होना
कमर टूटनाबेसहारा होना
कोसों दूर भागनाबहुत अलग रहना
कुआं खोदनाहानि पहुंचाना
कंठ का हार होनाअत्यंत प्रिय
कंपकंपी छूटनाडर के मारे कांपना
कचूमर निकालनाबहुत पीटना
कच्ची गोली खेलनाअनाड़ीपन दिखाना
कड़वा घूंट पीनाचुपचाप अपमान सहना
कढ़ी का सा उबाल आनागुस्सा जल्द शांत हो जाना
कदम उखड़नाहार मान लेना
कदम पर कदम रखनाअनुकरण करना
कफ़न को कौड़ी न होनाअत्यंत गरीब होना
सर से कफ़न बांधनालड़ने-मरने की तयारी करना
कबाब में हड्डी होनासुख शांति में वाधा डालना
कब्र में पाँव लटकानामृत्यु के करीब होना
कमर सीढ़ी करनालेटना या आराम करना
कमान से तीर छूट जानाहाथ में न रहना
कल न पड़नाचैन न पड़ना
कलई खुलनाभेद प्रकट होना
कलई खोलनाभांडा फोड़ना
कलेजा काँपनाबहुत भयभीत होना
कलेजा ठंडा होनासंतोष मिलना
कलेजा पसीजनादया आना
कलेजा फटनाबहुत दुःख में होना
कलेजे का टुकड़ाअत्यंत प्रिय
कलेजे पर छुरी चलनाकिसी की बातें चुभना
कलेजे में आग लगनाईर्ष्या करना
कसक निकलनाबदला लेना
कसाई के खूंटे से बांधनाक्रूर के हाथों में देना
मुहावरेअर्थ
अक्ल पर पत्थर पड़नाबुद्धि भ्रष्ट हो जाना
अंक भरनास्नेह से लिपटा लेना
अंग टूटनाथकान से दर्द होना
अपने मुंह मिया मिट्ठू बननाअपनी तारीफ स्वयं करना
अपने पैरों पर खड़ा होनास्वावलम्बी होना
अक्ल का दुश्मनमुर्ख व्यक्ति
अपना उल्लू सीधा करनाअपना काम निकालना
अंगारों पर लेटनादुःख सहना
अँगूठा दिखानावक्त पर धोखा देना
अँचरा पसारनामाँगना या याचना करना
अंटी मारनाअपनी चाल चलना
अण्ड बण्ड कहनाभला बुरा कहना
अँधा धुंध लुटानाबिना बिचारे खूब खर्च करना
अँधा बननाआगे पीछे कुछ न देखना
अँधा बनानाधोखा देना
अँधा होनाविवेकहीन हो जाना
अंधे के लकड़ीएकमात्र सहारा
अंधेरखाताअन्याय
अंधेरनगरीजहाँ बस धांधली ही चलती हो
अकेला दमअकेला
अक्ल की दुमअपने को बहुत होशियार समझने वाला
अगले ज़माने का आदमीसीधा सादा आदमी
अढ़ाई दिन की हुकूमतकुछ दिन की शान शौकत
अन्न जल उठनासमय पूरा हो जाना
अन्न जल करानाजलपान कराना
अन्न लगनास्वस्थ होना
अपना किया पानाकिये का फल भोगना
अपना सा मुँह लेकर रह जानाशर्मिंदा होना
अपनी खिचड़ी अलग पकानाअलग रहना या स्वार्थी होना
अपने पैर पर कुल्हाड़ी मारनासंकट मोल लेना
अब तब करनाबहाना करना
अब तब होनामरने के करीब होना, परेशान करना
अंग अंग ढीला होनाअत्यधिक थक जाना
अंगारे उगलनाकड़वी बातें करना
अंगारों पर लेटनाईर्ष्या से व्याकुल होना
ऊँगली उठानाकिसी के चरित्र/ईमानदारी पर शक करना या प्रश्न करना
उंगली पकड़कर पहुंचा पकड़नासहारा लेकर हावी होना
अंगूठा छापअनपढ़ होना
अंगूर खट्टे होनाकिसी चीज के न मिलने पर उसमे कमी निकालना
अंजर पंजर ढीले होनाबहुत थक कर शरीर शिथिल पड़ जाना
अंडे सेनाघर में ही बैठे रहना
अंतड़ियों के बल खोलनादिनों बाद भरपेट खाना
अंतड़ियों में बल पड़नापेट दर्द होना
अंतिम घड़ी आनामृत्यु के निकट होना
अँधा बननाध्यान न देना
अंधे के हाथ बटेर लगनाअयोग्य के हाथ मूलयवान वानास्तु लगना
अंधे को दो आँखें मिलनामनोरथ सिद्ध हो जाना
अंधेर मचानाअत्याचार करना
अक्ल का अँधामूर्ख
अक्ल के पीछे लट्ठ लेकर भागनाहर समय मूर्खता का कार्य करना
अक्ल घास चरने जानासमय पर बुद्धि न चलना
अक्ल ठिकाने लगानामारना पीटना
अक्ल ठिकाने लगनाभूल समझ आ जाना
अगर मगर करनाटाल मटोल करना
अपना रास्ता नापनाचले जाना
अपना सिक्का ज़मानाप्रभुत्व जमाना
सर ओखली में देनाजानकार संकट मोल लेना
अपनी खाल में मस्त रहनाअपने में ही रमे रहना
अंगारों पर पैर रखनाखुद को खतरे में डालना
अक्ल का अजीर्ण होनाजरुरत से ज्यादा समझदार होना
अक्ल दंग होनाचकित होना
अक्ल का पुतलाबहुत अधिक बुद्धिमान
अंत पानाभेद जानना
अंतर के पट खोलनाविवेक से काम लेना
अक्ल के घोड़े दौड़ानाकल्पना करना
अपने दिनों को रोनाखुद की दुर्दशा पर शोक जताना
अला उद्दीन का चिराग होनाअद्भुद वस्तु
अल्लाह को प्यारा हो जानामर जाना
अपनी डफली खुद बजानामन की करना
अंग अंग मुस्कानाअति प्रसन्न होना
अगवा करनाअपहरण करना
अति करनामर्यादा का उल्लंघन करना
अपना अपना राग अलापनाकिसी की न सुनना और खुद की करना
अपनी राम कहानी सुनानाअपना हाल सुनाना
अरमान निकालनाइच्छा पूरी करना
अंधों में काना राजाअज्ञानियों में अल्पज्ञानी का सम्मान
अंकुश देनादबाव डालना
अंग में अंग चुरानाशर्माना
अंग अंग फूले न समानाअत्यधिक खुश होना
अंगार बननाअत्यधिक क्रोध करना
अंडे का शहजादाअनुभवहीन व्यक्ति
अठखेलियां सूझनामजाक मस्ती करना
अँधेरे मुँहप्रातःकाल या सुबह तड़के
अड़ियल टट्टूरुक रुक कर काम करना
अपना घर समझनाबिना संकोच व्यवहार करना
अड़चन डालनावाधा उत्पन्न करना
अरमान निकालनाइच्छा पूरी करना
अरण्य चन्द्रिकानिष्प्रयोजन पदार्थ
आँख भर आनाआँख में आंसू आ जाना
आँखों में बसनादिल में समा जाना
आँखें खुलनासमझ आ जाना
आँख का ताराबहुत प्यारा
आँखें दिखानाकिसी पर गुस्सा करना
आसमान से बातें करनाबहुत ऊँचा होना
आकाश छूनाबहुत तरक्की करना
आकाश पाताल एक करनाबहुत मेहनत करना
आकाश पाताल का अंतर होनाबहुत अधिक भिन्न होना
आंच आनाकष्ट होना
आते गुड़गुड़ानाबहुत भूख लगना
आंधी के आमबहुत सस्ता
आंसू पीनादुःख की घडी में शांत रहना
आकाश का फूल होनाअप्राप्य वस्तु
आकाश के तारे तोड़नाअसंभव कार्य करना
मुँह से आग उगलनाकड़वी बातें करना
आकाश से बातें करनाबहुत ऊँचा होना
आग बबूला होनाअत्यधिक क्रोध करना
आग पर लेटनाईर्ष्या से जलना
आग में घी डालनागुस्से को और भड़काना
प्यास लगने पर कुआं खोदनाऐन मौके पर कार्य करना
आग लगाकर तमाशा देखनाझगड़ा कराकर मजे लेना
आटे दाल का भाव पता चलनादुनियादारी का ज्ञान होना
आग से खेलनाखतरनाक काम करना
आग हो जानाबहुत तेजी से फैलना
आगे पीछे न सोचनासमय पर ही लाभ हानि का सोचना
आज कल करनाटालना
आटे के साथ घुन पिसनादोषी के साथ निर्दोष को दंड मिलना
आड़े हाथ लेनाबुरा भला कहना
आधा तीतर आधा बटेरबेमेल वस्तु
आसमान में उड़नाथोड़ा पैसा आने पर उड़ाना
आसमान पर चढ़नाबहुत अभिमान करना
आसमान पर थूकनामहान व्यक्ति को भला बुरा कहना
आसमान सर पर उठानाबहुत ऊधम मचाना
सर पे आसमान टूटनामुसीबत आ जाना
आसमान से गिरे खजूर में अटकेएक परेशानी से निकलकर दूसरी मुसीबत में फस जाना
आस्तीन चढ़ानातैयार करना
आह लेनाकिसी की बद्दुआ लेना
आंधी के आमबिना परिश्रम के मिली वस्तु
आखिरी साँसें गिननामृत्यु के निकट होना
आग देनाडाह संस्कार में आग लगाना
आफत का मारादुखी व्यक्ति
आफत मोल लेनाव्यर्थ का झगड़ा मोल लेना
आव देखा न तावबिना सोचे विचारे
आहुति देनाप्राण न्योछावर करना
आग का पुतलाक्रोधी व्यक्ति
आग पर आग डालनागुस्से या लड़ाई को और बढ़ाना
आग पर पानी डालनाकरना
आग और पानी का बैरसहज दुश्मनी
आग बोनाझगड़ा शुरू करना
आग में कूद पड़नाखतरा मोल लेना
आन की आन मेंतुरंत
अगिया बैतालक्रोधी
इंद्र की परीबहुत सुन्दर स्त्री
इज्जत उतारनाअपमानित करना
इज्जत मिट्टी में मिलानासम्मान नष्ट करना
इधर की उधर करनाचुगली करना
इधर उधर की हांकनागप मारना
इस कान से सुनकर उस कान से निकालनाध्यान न देना
इस हाथ देना उस हाथ लेनातुरंत फल मिलना
इंतकाल हो जानामृत्यु हो जाना
इशारे पर नाचनावश में हो जाना
ईंट से ईंट बजानाजमकर झगड़ा होना
ईंट का जबाब पत्थर से देनाजबरदस्त बदला लेना
ईद का चाँद होनाबहुत दिनों बाद दिखना
ईमान बेचनाबेईमानी करना
उड़ती चिड़िया को पहचाननामन या रहस्य की बात को जान लेना
उन्नीस बीस का अंतर होनाबहुत थोड़ा सा फर्क होना
उल्टी गंगा बहानालीक से हटकर काम करना
उड़ जानाखर्च हो जाना
उड़ती खबरअफवाह
उड़न-छू हो जानागायब हो जाना
उधेड़बुन में रहनाचिंतित रहना
उबाल पड़नाअचानक क्रोध करना
उल्टी माला फेरनाबुराई चाहना या अनिष्ट चाहना
उल्टी सीधी जड़नाझूठी शिकायत करना
उल्टी सीधी सुनानाबुरा भला कहना
उलटे छुरे से मूढनाठगना
उल्टे पाँव लौटनाजैसे जाना वैसे ही बापस आ जाना
उल्लू बनानाबेवकूफ बनाना
उगल देनाभेद प्रकट करना
उल्लू बोलनावीरान स्थान होना
उल्लू का पट्ठापूरा मूर्ख
ऊँट के गले बिल्ली बांधनाबेमेल जोड़ी बनाना
ऊँट के मुँह में जीराअधिक आवश्यकता पर थोड़ी वस्तु
ऊल जलूल बकनाभला बुरा कहना
ऊसर में बीज बोनाव्यर्थ कार्य करना
ऊँचा सुननाकम सुनाई देना
ऊपर की आमदनीनियमित स्त्रोत के अतिरिक्त आय
ऊपरी मन से कहनाबेमन से कह देना
सबको एक आँख से देखनासबके साथ एक जैसा व्यवहार करना
एक लाठी से सबको हांकनाउचित अनुचित के बिना व्यवहार
एक आँख न भानाबिलकुल अच्छा न लगना
एक और एक ग्यारहसंगठन ही शक्ति है
एक तीर से दो शिकारएक साधन से दो काम कर लेना
एक से इक्कीस होनाउन्नति करना
एक ही थाली के चट्टे बट्टेएक जैसे स्वभाव के
एक ही नाव में सवारएक जैसी परिस्थिति में पड़ना
एड़ियां रगड़नानहुत दिनों से बीमार होना
एक न चलनाकोई युक्ति काम न आना
ऐरा गैर नत्थू खैरामामूली आदमी
ऐसा वैसातुच्छ व साधारण
ऐसी की तैसी करनाबुरी हालत करना
ओखली में सर देनाखुद मुसीबत में पड़ना
ओर छोर न मिलनारहस्य पता न चलना
ओस के मोतीक्षणभंगुर वस्तु
औंधी खोपड़ीउल्टी बुद्धि का
औंधे मुँह गिरनाबुरी तरह धोखा खाना
कान देनाध्यान से सुनना
कान खोलनासावधान होना
कमर कसनातैयार होना
कलेजा मुँह को आनाअत्यधिक भयभीत होना
कमर टूटनाबेसहारा होना
कोसों दूर भागनाबहुत अलग रहना
कुआं खोदनाहानि पहुंचाना
कंठ का हार होनाअत्यंत प्रिय
कंपकंपी छूटनाडर के मारे कांपना
कचूमर निकालनाबहुत पीटना
कच्ची गोली खेलनाअनाड़ीपन दिखाना
कड़वा घूंट पीनाचुपचाप अपमान सहना
कढ़ी का सा उबाल आनागुस्सा जल्द शांत हो जाना
कदम उखड़नाहार मान लेना
कदम पर कदम रखनाअनुकरण करना
कफ़न को कौड़ी न होनाअत्यंत गरीब होना
सर से कफ़न बांधनालड़ने-मरने की तयारी करना
कबाब में हड्डी होनासुख शांति में वाधा डालना
कब्र में पाँव लटकानामृत्यु के करीब होना
कमर सीढ़ी करनालेटना या आराम करना
कमान से तीर छूट जानाहाथ में न रहना
कल न पड़नाचैन न पड़ना
कलई खुलनाभेद प्रकट होना
कलई खोलनाभांडा फोड़ना
कलेजा काँपनाबहुत भयभीत होना
कलेजा ठंडा होनासंतोष मिलना
कलेजा पसीजनादया आना
कलेजा फटनाबहुत दुःख में होना
कलेजे का टुकड़ाअत्यंत प्रिय
कलेजे पर छुरी चलनाकिसी की बातें चुभना
कलेजे में आग लगनाईर्ष्या करना
कसक निकलनाबदला लेना
कसाई के खूंटे से बांधनाक्रूर के हाथों में देना

Leave a Reply

Your email address will not be published.