करेंट अफेयर्स – 03 अगस्त 2022

  • utkarsh
  • Aug 03, 2022
  • 1 comment
  • Blog, Blog Hindi, Current Affairs, News Hindi,
करेंट अफेयर्स – 03 अगस्त 2022

दैनिक समसामयिकी (Current Affairs) के मुद्दों की महत्त्वपूर्ण जानकारी आज के इस लेख द्वारा उपलब्ध कराई गई है, जो सभी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में उपयोगी है –

EX VINBAX-2022

दिनांक 1 अगस्त व 2 अगस्त, 2022 को भारत और वियतनाम के बीच Ex VINBAX-2022 का आयोजन किया गया। यह Ex VINBAX का तीसरा संस्करण था जिसका अभ्यास आयोजन चंडी मंदिर में हुआ। 105 इंजीनियर रेजीमेंट के सैनिकों ने भारतीय सेना का प्रतिनिधित्व किया। यह अभ्यास दोनों देशों के बीच आपसी विश्वास और अंतःक्रियाशीलता को मजबूत करने में मदद करता है।

इस अभ्यास के माध्यम से भारत और वियतनाम की सेनाओं के बीच अच्छे कार्यक्षेत्र के साथ क्षेत्र प्रशिक्षण अभ्यास के रूप में सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करने में सहायता मिलती है। Ex VINBAX के माध्यम से भारतीय एवं वियतनामी सैनिकों को एक-दूसरे के देशों की सामाजिक और सांस्कृतिक विरासत के बारे में जानकारी प्राप्त होती है। 

प्रमुख बिंदु:

  • पिछले Ex VINBAX अभ्यास का आयोजन वियतनाम में 2019 में किया गया था।
  • वियतनाम, भारत की एक्ट ईस्ट नीति के अलावा इंडो-पैसिफिक विजन में एक महत्त्वपूर्ण भागीदार है।
  • यह अभ्यास द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने में महत्त्वपूर्ण भूमिका अदा करता है।
  • इसके माध्यम से दोनों देश व्यापक रणनीतिक साझेदारी करते हैं वहीं रक्षा सहयोग इस साझेदारी का एक महत्त्वपूर्ण स्तंभ है।

विश्व स्तनपान सप्ताह-2022 

विश्व स्तनपान सप्ताह हर साल 1 अगस्त से 7 अगस्त तक शिशुओं के लिए स्तनपान के महत्त्व पर माताओं में जागरूकता बढ़ाने हेतु मनाया जाता है। UNICEF द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार विश्व के 60% शिशुओं को लगभग 6 महीने तक जरूरी स्तनपान नहीं मिलता है।

इस दिशा में जागरूकता बढ़ाने में विश्व स्तनपान सप्ताह की महत्त्वपूर्ण भूमिका रहती है। यह सप्ताह हर साल एक विशेष थीम के तहत जागरूकता अभियान की तरह मनाया जाता है। विश्व स्तनपान सप्ताह-2022 की थीम ‘Step Up for Breastfeeding: Educate and Support’ रखी गई है। इस सप्ताह की बदौलत वर्ष 2015-16 के मुकाबले वर्ष 2020-21 में स्तनपान की प्रारंभिक दर में गिरावट आई है। 

इतिहास और महत्त्व:

डब्ल्यूएबीए, डब्ल्यूएचओ और यूएनआईसीईएफ द्वारा वर्ष 1991 से वार्षिक विश्व स्तनपान सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है। इस सप्ताह के माध्यम से कई सामाजिक भ्रांतियों को दूर किया गया है और हर वर्ष के विशेष थीम के माध्यम से लोगों में जागरूकता फैलाई जाती है।


गुजरात सेमीकंडक्टर नीति

हाल ही में गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने ‘गुजरात सेमीकंडक्टर नीति’ का अनावरण किया है जो वर्ष 2027 तक लागू रहेगी। राज्य सरकार की इस नई घोषणा का उद्देश्य सेमीकंडक्टर के क्षेत्र में नए निवेशकों को आकर्षित करना है। भारत सेमीकंडक्टर मिशन के अनुसार इस नीति को तैयार किया गया है। गुजरात के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री जीतू वघानी ने बताया कि गुजरात सरकार नई नीति के तहत प्रोत्साहन एवं सब्सिडी की पेशकश कर रही है। 

महत्त्वपूर्ण बिंदु:

  • गुजरात इस घोषणा के साथ सेमीकंडक्टर नीति शुरू करने वाला भारत का पहला राज्य बन गया है। 
  • राज्य सरकार इस नीति के साथ अहमदाबाद के पास ‘धोलेरा सेमिकॉन सिटी’ स्थापित करेगी।
  • धोलेरा सेमीकॉन सिटी में पात्र परियोजनाओं को विनिर्माण इकाइयों को स्थापित करने के लिए सब्सिडी दी जाएगी।
  • इसमें 200 एकड़ भूमि की खरीद पर 75 प्रतिशत सब्सिडी देना शामिल है।
  • गुजरात सेमीकंडक्टर और डिस्प्ले उत्पादन क्षेत्र के लिए समर्पित नीति वाला देश का पहला राज्य है।

तमिलनाडु पुलिस को प्रदान किए गए ‘प्रेसिडेंट्स कलर्स’ 

हाल ही में भारत के उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने चेन्नई के राजारथिनम स्टेडियम में आयोजित एक कार्यक्रम में तमिलनाडु पुलिस को राष्ट्रपति निशान (प्रेसिडेंट्स कलर्स) प्रदान किए हैं। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम.के. स्टालिन ने उपराष्ट्रपति से प्रेसिडेंट्स कलर्स प्राप्त किए हैं। तमिलनाडु पुलिस देश के बेहतरीन पुलिस बलों में से एक हैं और यह देश की पहली महिला कमांडो यूनिट का घर भी है। 

प्रमुख बिंदु:

  • तमिलनाडु पुलिस भी अब भारत में कुछ कानून प्रवर्तन एजेंसियों में शामिल हो गई हैं जिसे प्रेसिडेंट्स कलर्स प्राप्त है। 
  • इस उपलब्धि के साथ प्रत्येक पुलिस अधिकारी को एक पदक दिया जाएगा।

प्रेसिडेंट्स कलर पुरस्कार के बारे में:

  • यह देश में सैन्य इकाई को दिया जाने वाला सर्वोच्च सम्मान है।
  • इस पुरस्कार को ‘निशान’ भी कहा जाता है।
  • यह सभी यूनिट अधिकारियों द्वारा उनकी वर्दी के बाएँ हाथ की आस्तीन पर लगाए जाने वाले प्रतीक का प्रतिनिधित्व करता है। 
  • यह पुरस्कार देश के सर्वोच्च कमांडर द्वारा प्रदान किया जाता है।

डीपमाइंड टेक्नोलॉजीज ने विकसित किया AlphaFold

अल्फाबेट के स्वामित्व वाली AI शोध कंपनी डीपमाइंड टेक्नोलॉजीज ने प्रोटीन संरचनाओं की भविष्यवाणी करने में सक्षम उपकरण ‘AlphaFold’ विकसित किया है। अल्फाफोल्ड एक कृत्रिम बुद्धिमत्ता उपकरण है। यह AI उपकरण सभी प्रोटीनों की संरचनाओं की भविष्यवाणी और प्रकाशन करने में सक्षम है। इस तरह यह उपकरण जैविक अनुसंधान के लिए सबसे प्रभावशाली डेटाबेस को अनलॉक करता है।

महत्त्वपूर्ण बिंदु:

  • यूरोपीय जैव सूचना विज्ञान संस्थान (EMBL-EBI) के सहयोग से AlphaFold ने 200 मिलियन से अधिक प्रोटीन की संरचनाएँ जारी की है।
  • इन प्रोटीन संरचनाओं में पौधों, जानवरों, बैक्टीरिया और जीवों के लिए अनुमानित संरचनाएँ शामिल हैं।
  • AlphaFold के उपयोग से शोधकर्ताओं को खाद्य असुरक्षा, स्थिरता और उपेक्षित बीमारियों जैसे महत्त्वपूर्ण मुद्दों पर सहयोग मिलेगा।

डीपमाइंड टेक्नोलॉजीज के बारे में:

डीपमाइंड टेक्नोलॉजीज की स्थापना वर्ष 2010 में की गई थी। यह अल्फाबेट इंक की एक ब्रिटिश कृत्रिम बुद्धिमत्ता सहायक और अनुसंधान प्रयोगशाला है। Google द्वारा डीपमाइंड को 2014 में अधिग्रहित किया गया था। कंपनी कनाडा, फ्रांस और संयुक्त राज्य अमेरिका में अनुसंधान केंद्रों के साथ लंदन में स्थित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.