Home > Current Affairs > National > India's Per Capita Income To Grow By 70%: Standard Chartered

भारत की प्रति व्यक्ति आय 70% बढ़ेगी: स्टैंडर्ड चार्टर्ड

Utkarsh Classes 31-07-2023
India's Per Capita Income To Grow By 70%: Standard Chartered Economy 7 min read

ब्रिटिश बहुराष्ट्रीय बैंक स्टैंडर्ड चार्टर्ड द्वारा प्रकाशित एक हालिया रिपोर्ट के अनुसार, भारत की प्रति व्यक्ति वर्तमान (2022-23) में 2,450 अमेरिकी डॉलर से लगभग 70 प्रतिशत बढ़कर 2029-30 तक अमरीकी डॉलर  (यूएसडी) 4,000 हो जाने की उम्मीद है। रिपोर्ट के अनुसार भविष्य के प्रति व्यक्ति आय वृद्धि में गुजरात अग्रणी  राज्य रहेगा।

स्टैंडर्ड चार्टर्ड की रिपोर्ट में उम्मीद जताई गई है कि भारत 2029-30 तक भारत की  अर्थव्यवस्था 6 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर हो जाएगी और भारत उच्च मध्यम आय श्रेणी वाला देश बन जाएगा। साथ ही भारत ,संयुक्त राज्य अमेरिका और चीन के बाद दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगी ।

वर्तमान में भारत संयुक्त राज्य अमेरिका, चीन, जापान और जर्मनी के बाद दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है।

विश्व बैंक ने भारत को निम्न मध्यम आय वाली अर्थव्यवस्था का दर्जा दिया है और उसे उम्मीद है कि भारत 2030 तक उच्च मध्यम आय वाले देश का दर्जा हासिल कर लेगा।

स्टैंडर्ड चार्टर्ड रिपोर्ट की मुख्य बातें

 

  • रिपोर्ट में किए गए सभी पूर्वानुमान इस धारणा पर आधारित हैं कि भारत की नाममात्र जीडीपी वृद्धि 10% प्रति वर्ष होगी।

  • रिपोर्ट के अनुसार विकास में सबसे बड़ा योगदान विदेशी  व्यापार का होगा, जिसके 2022-23 में 1.2 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर से लगभग दोगुना होकर 2029-30 तक 2.1 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर होने की उम्मीद है। (भारत की विदेश व्यापार नीति 2023 ने 2029-30 तक भारतीय निर्यात को दोगुना कर 2 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंचाने का लक्ष्य रखा है।)

  • दूसरा प्रमुख योगदान घरेलू खपत की होगी । वर्तमान में  घरेलू खपत  2.1 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर है जो  बढ़कर 2029-30 में  3.4 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर होने की उम्मीद है। वर्तमान में, घरेलू खपत देश की जीडीपी का 57 प्रतिशत है

  • रिपोर्ट के अनुसार 2030 तक प्रति व्यक्ति वृद्धि के मामले में गुजरात अग्रणी होगा, उसके बाद महाराष्ट्र, तमिलनाडु, कर्नाटक, हरियाणा, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश होंगे।

  • 2022-23 के आंकड़े के अनुसार  तेलंगाना 2,75,443 रुपये या  3,360 अमेरिकी डॉलर  प्रति व्यक्ति आय के साथ  राज्यों में सबसे आगे है और उसके बाद कर्नाटक (2,65,623 रुपये), तमिलनाडु (2,41,131 रुपये), केरल (2,30,601 रुपये) हैं और आंध्र प्रदेश 2,07,771 रुपये है ।

  • वर्तमान में तेलंगाना, दिल्ली, कर्नाटक, हरियाणा, गुजरात और आंध्र प्रदेश को देश के  जीडीपी में कुल योगदान  20 प्रतिशत है ।  स्टैंडर्ड चार्टर्ड  के रिपोर्ट के अनुसार इन राज्यों का 2029-30 तक प्रति व्यक्ति आय 6,000 अमेरिकी डॉलर होने की संभावना है ।

  • रिपोर्ट में उम्मीद जताई गई है कि 2029-30 तक कम से कम नौ राज्यों का प्रति व्यक्ति आय 4,000 अमेरिकी डॉलर  हो जाएगी और वे उच्च मध्यम आय के श्रेणी में आ जाएंगे।

  • स्टैंडर्ड चार्टर्ड के  रिपोर्ट के अनुसार 2029-30 में उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे बड़े राज्यों में प्रति व्यक्ति आय 2,000 अमेरिकी डॉलर होगी। वर्तमान में इन दोनों राज्यों में देश की लगभग 25 प्रतिशत आबादी निवास करती है।

  • रिपोर्ट ने कार्यशील जनसंख्या (15-59 वर्ष की आयु समूह) की उच्च हिस्सेदारी को मुख्य कारकों में से एक के रूप में पहचाना है जो देश में उच्च आर्थिक विकास दर को सक्षम करेगा। 2020 में देश में कामकाजी उम्र की आबादी का हिस्सा 64.2 प्रतिशत था, जो बढ़कर 64.8 प्रतिशत हो जाएगा, 2040 में मामूली गिरावट के साथ 63.6 प्रतिशत और 2050 में 61.1 प्रतिशत तक गिर सकता है।

  • रिपोर्ट अन्य विकास प्रवर्तकों के रूप में लगातार आर्थिक सुधार की प्रगति, वृहद स्थिरता, स्वस्थ वित्तीय क्षेत्र, कॉर्पोरेट क्षेत्र के ऋण में लगातार कमी और सार्वजनिक पूंजीगत व्यय को भी चिन्हित करता  है।

विश्व बैंक द्वारा देशों का वर्गीकरण

विश्व बैंक प्रति व्यक्ति सकल राष्ट्रीय आय के आधार पर अर्थव्यवस्था का वर्गीकरण करता है।जीएनआई माप संयुक्त राज्य डॉलर (यूएसडी) में व्यक्त किए जाते हैं, और विश्व बैंक एटलस पद्धति के अनुसार प्राप्त रूपांतरण कारकों का उपयोग करके निर्धारित किए जाते हैं।

वर्गीकरण प्रत्येक वर्ष 1 जुलाई को अद्यतन किया जाता है और पिछले वर्ष की प्रति व्यक्ति जीएनआई पर आधारित होता है।

विश्व बैंक देशों को निम्न आय, मध्यम आय और उच्च आय में वर्गीकृत करता है। मध्य आय को फिर से निम्न-मध्यम आय और उच्च-मध्यम आय में विभाजित किया गया है।

सभी आंकड़े अमेरिकी डॉलर में हैं.

समूह 

प्रति व्यक्ति जीएनआई (2022 की प्रति व्यक्ति जीएनआई पर आधारित)

कम आय

1085 से कम

निम्न-मध्यम आय

1086-4255

उच्च मध्यम आय

4,256-13,205

उच्च आय

13,206 से अधिक

विश्व बैंक के अनुसार भारत निम्न मध्यम आय वाला देश है जबकि चीन एक उच्च मध्य आय वाला देश है

 

 

 

स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक

यह एक ब्रिटिश बहुराष्ट्रीय बैंक है जिसका मुख्यालय लंदन, ब्रिटेन में है।

यह पिछले 160 वर्षों से भारत में कार्यरत सबसे पुराने विदेशी बैंकों में से एक है।

बैंक की टैगलाइन: हम यहां भलाई के लिए हैं

मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ), भारत संचालन: ज़रीन दारूवाला

Leave a Review

Today's Article

Utkarsh Classes
DOWNLOAD OUR APP

Download India's Best Educational App

With the trust and confidence that our students have placed in us, the Utkarsh Mobile App has become India’s Best Educational App on the Google Play Store. We are striving to maintain the legacy by updating unique features in the app for the facility of our aspirants.