EWS आरक्षण की वजह से स्थगित हुई “रीट और सहायक व्याख्याता” की परीक्षा

  • utkarsh
  • Apr 01, 2021
  • 0
  • Blog, Blog Hindi, REET,
EWS आरक्षण की वजह से स्थगित हुई “रीट और सहायक व्याख्याता” की परीक्षा

 25 अप्रैल को होने वाली राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) और राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा दिनांक 04 अप्रैल 2021 से आयोजित की जाने वाली कॉलेज सहायक आचार्य (कॉलेज शिक्षा विभाग) प्रतियोगी परीक्षा 2020, स्थगित कर दी गई है। आधिकारिक वेबसाइटों पर जारी किए गए प्रेस नोटिस में इन परीक्षाओं के स्थगित होने का मुख्य कारण EWS आरक्षण को बताया गया है। 

राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) 2021: राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने रविवार 25 अप्रैल को होने वाली राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (REET) स्थगित कर दी है। यह परीक्षा माननीय मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा बजट सत्र में विधानसभा में की गई घोषणा की क्रियान्वति हेतु आर्थिक रूप से कमजोर (EWS) वर्ग के अभ्यार्थियों को अवसर दिए जाने के लिए स्थगित की गई है।

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष और रीट के मुख्य समन्वयक प्रो. (डॉ.) डी. पी. जारोली ने शनिवार को बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार बोर्ड शीघ्र ही आर्थिक रूप से कमजोर (EWS) वर्ग के अभ्यार्थियों को रीट परीक्षा के लिए आवेदन करने का मौका मिलेगा। इसकी तिथियों की घोषणा शीघ्र की जाएगी। राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (REET) 20 जून (रविवार) को होगी।  

राजस्थान लोक सेवा आयोग, अजमेर: कार्मिक विभाग के पत्र दिनांक 26 मार्च 2021 के कर्म में आर्थिक रूप से कमजोर (EWS) वर्ग के अभ्यर्थियों को आयु सीमा एवं आवेदन शुल्क सम्बन्धी लाभ दिए जाने के फलस्वरूप आयोग द्वारा दिनांक 04 अप्रैल 2021 से 1अप्रैल 2021 व 28अप्रैल 2021 से 02 मई 2021 तक आयोजित की जाने वाली कॉलेज सहायक आचार्य (कॉलेज शिक्षा विभाग) प्रतियोगी परीक्षा 2020, स्थगित कर दी गई है। नवीन तिथि से यथासमय अवगत करवा दिया जाएगा।

क्या है EWS आरक्षण:

साल 2019 की पहली कैबिनेट बैठक में पिछड़े सवर्णों के लिए 10 फीसदी आरक्षण की व्यवस्था का फैसला लिया था। इसके लिए 103वाँ संविधान संशोधन हुआ जिसमें अनुच्छेद 15 (6), अनुच्छेद 16 में खंड (6) शामिल किया गया। पिछड़े सवर्णों को आरक्षण देने के लिए सरकार ने कुछ पैमाने निर्धारित किए है। इसके साथ EWS कैटेगरी भी स्पष्ट कर दी गई है, जिससे आरक्षण मिलने का निर्धारण होगा।

इन सवर्णो को मिलेगा EWS आरक्षण का फायदा –

·         आमदनी आठ लाख से कम हो

·         5 हेक्टेयर से कम कृषि भूमि हो

·         अगर घर है तो 1000 स्क्वायर फीट से कम का हो

·         अगर निगम में आवासीय प्लॉट है तो 109 यार्ड से कम जमीन हो उससे ज्यादा नहीं

·         अगर निगम से बाहर प्लॉट है तो 209 यार्ड से कम हो

Leave a Reply

Your email address will not be published.