पेटेंट प्रॉसिक्यूशन हाइवे योजना

पेटेंट प्रॉसिक्यूशन हाइवे योजना

चर्चा में क्यों ?

  • हाल ही में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने ‘पेटेंट प्रॉसिक्यूशन हाइवे- पीपीएच’ (Patent Prosecution Highway- PPH) नामक योजना को मंजुरी दी है।

‘पेटेंट प्रॉसिक्यूशन हाइवे’ योजना (Patent Prosecution Highway programme)

  • केंद्रीय मंत्रिमंडल ने ‘पेटेंट, डिजाइन एवं ट्रेडमार्क महानियंत्रक’ (Controller General of Patents, Designs & Trade Marks, India- CGPDTM) के अधीन भारतीय पेटेंट कार्यालय (Indian Patent Office- IPO) द्वारा विभिन्न देशों या क्षेत्रों के पेटेंट कार्यालयों के साथ पेटेंट प्राप्त करने में तेजी लाने और उसे कारगर बनाने वाले ‘पेटेंट प्रॉसिक्यूशन हाइवे योजना’ को अपनाए जाने के प्रस्ताव को मंजुरी दी है।
  • यह योजना तीन वर्षों के प्रायोगिक आधार पर सबसे पहले जापान पेटेंट कार्यालय (Japan Patent Office) तथा भारतीय पेटेंट कार्यालय के बीच प्रारंभ होगा।
  • इस योजना के माध्यम से भारतीय पेटेंट कार्यालय विद्युत, कंप्यूटर विज्ञान, सूचना प्रौद्योगिकी, भौतिकी, सिविल, यांत्रिकी, वस्त्र, मोटरवाहन और धातु विज्ञान, इलेक्ट्रॉनिक्स जैसे तकनीकी क्षेत्रों में पेटेंट के लिये आवेदन प्राप्त करेगा जबकि जापान पेटेंट कार्यालय प्रौद्योगिकी के सभी क्षेत्रों में आवेदन प्राप्त करेगा।
  • इस योजना के माध्यम से लंबित पेटेंट आवेदनों में कमी, पेटेंट आवेदनों के निपटान में लगने वाले समय में कमी तथा उनकी जाँच प्रक्रिया की गुणवत्ता में सुधार आएगा।
  • इस योजना के माध्यम से भारत के स्टार्टअप्स (Startsups) सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग उद्यमियों तथा अन्य भारतीय निवेशकों द्वारा जापान में किये गए पेटेंट आवेदनों के निपटान में तेजी आएगी।
  • इस योजना से भारत के बौद्धिक संपदा अधिकारों में बढ़ोतरी होगी।

No Comments

Give a comment