हज़ार वर्ष पुराना बठुकम्मा त्यौहार

हज़ार वर्ष पुराना बठुकम्मा त्यौहार

क्या है खबर

  • हिन्दू पंचांग के अनुसार अश्विन मास के कृष्ण पक्ष की  महालया अमावस्या से तेलंगाना का राज्य त्यौहार बठुकम्मा शुरू।
  • इस वर्ष ये त्यौहार 28  सितम्बर से शुरू होकर 6 अक्टूबर तक मनाया जायेगा।

बठुकम्मा / बतुकम्मा त्यौहार

  • बतुकम्मा त्यौहार भारत के तेलंगाना का  राज्य त्यौहार है , जो एक फूलों का त्यौहार हैं , जिसे जनजातीय महिलाओं द्वारा मनाया जाता है।
  • फूलों से सात लेयर (थंबलंब ) से गोपुरम मंदिर की आकृति बनाई जाती है। गुनुका पूलू और तांगेदु पूलू जैसे फूलों का प्रचुर मात्रा में प्रयोग किया जाता है। इसके अलावा बांटी, केमंती , नंदी-वर्द्धनम  सलोचिया , सेन्ना , मेरीगोल्ड , ककुर्बिता पत्ती कुकुमिस पत्ती कमल जैसे अन्य फूलों का भी प्रयोग किया जाता है।
  • शिव पार्वती को खुश करने क लिए ये त्यौहार तेलंगाना में 1000  सालों से मनाया जा रहा है।
  • तेलगु में बठुकम्मा का मतलब होता है, देवी माँ जिन्दा है।
  • इस दिन बठुकुम्मा को महागौरी के रूप में पूजा जाता है. यह त्यौहार स्त्री के सम्मान के रूप में मनाया जाता है।

Comment ( 1 )

  • Abhishek kumar yadav

    sir aap log jo itna achha kary kr rhe h uske liye mujh jaise bahot logo ki problem khatm ho gyi h pahle gk padne k man hi nhi karta tha ankit avasti sir ki class dekhne ke bad yesa lagne lga h ki ab gk ke liye koi dr nhi kyu ki hamari utkarsh classes mere sath h sir me jila jaunpur uttar pradesh ke ek chhote se gav khobhariya k rhne wala hu sir me puri tem ko bahut bahut dhanvad karta hu thnx sir

Give a comment

In light of Pandameic COVID-19, we are offering ONLINE CLASSES for students from 20TH of MARCH onwards. DOWNLOAD NOW
+