भौतिकी के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार 2019

भौतिकी के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार 2019

चर्चा में क्यों ?

  • भौतिकी के लिए वर्ष 2019 के  नोबेल पुरस्कार की घोषणा 8 अक्टूबर को की गई।
  • भौतिकी के क्षेत्र में तीन वैज्ञानिकों यथा जेम्‍स पीबल्स, माइकल मेयर और दिदिअर क्वैलोज को यह पुरस्कार  दिया जायेगा।
  • भौतिकी में नोबेल की घोषणा रॉयल स्वीडिश अकेडमी ऑफ़ साइंस के महासचिव गोरान के. हैन्सन ने किया।
  • 14 अक्टूबर तक कुल छह क्षेत्रों में नोबेल पुरस्कार विजेताओं की घोषणा की जाएगी।
  • यह पुरस्‍कार 10 दिसंबर को स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में दिया जायेगा।

भौतिकी के नोबेल के बारे में

  • भौतिकी के नोबेल पुरस्कार की शुरुआत 1901 ई. में हुई थी।
  • यह पुरस्‍कार सृष्टि के विकास और ब्रह्माण्ड में पृथ्‍वी के स्‍थान के बारे में जानकारी हासिल करने में उल्‍लेखनीय योगदान के लिए दिया जाता है।
  • वर्ष 2019 में  यह 3 वैज्ञानिकों को दिया जाएगा
  • जेम्स पीबल्स को ब्रह्माण्ड विज्ञान पर नए सिद्धांत रखने के लिए
  • मिशेल मेयर और दिदिअर क्वैलोज को सौरमंडल से परे एक और ग्रह खोजने के लिए संयुक्त रूप से।
  • पुरस्‍कार की आधी राशि जेम्‍स पीबल्स को तथा शेष आधी राशि संयुक्‍त रूप से माइकल मेयर और दिदिअर क्वैलोज को दी जायेगी।
  • भौतिकी का प्रथम नोबेल विलहम कॉनरैड रॉटजन को एक्सरे की खोज के लिए दिया गया था।
  • वर्ष 2018 का यह पुरस्कार आर्थर अश्किन , डोन्ना स्ट्रीकलैंड और जेरार्ड मोउरो को मिला था। डोन्ना  स्ट्रिकलैंड इतिहास में फिजिक्स का नोबेल जीतने वाली तीसरी महिला है।
  • भौतिकी का नोबेल पाने वाली प्रथम महिला मैरी क्यूरी थीं।
  • सर चंद्रशेखर वेंकट रमन पहले भारतीय है जिन्हें भौतिकी का नोबेल पुरस्कार मिला, उन्हे यह पुरस्कार  ‘प्रकाश के प्रकीर्णन पर उनके काम (रमन प्रभाव)’ की खोज के लिए 1930 में मिला था।

Comments ( 5 )

  • Raj rattan

    Very nice sir congratulations

  • Mahendra Sinha

    Nice sir ji

  • Vikram Singh

    Thanks sir

  • ANCHAL YADAV

    THANKU SIR
    For give knowledge

  • Santosh kumar

    Thanks sir

Give a comment